प्रेरणादायक कहानियाँ

बच्चों वाली सोच अपनाकर बिज़नेस करना और उससे करोड़ों कमाना कोई बच्चों का खेल नहीं – Success Story of Ella’s Kitchen

शेयर करें:-
  • 12
  •  
  •  
  •  
  • 1
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    14
    Shares

नन्हे-मुन्ने बच्चों की प्यारी-प्यारी बातें और उनकी नटखट शरारतें हर किसी का मन मोह लेती हैं। लेकिन बात जब उन्हें उनकी पसंद से हटकर खाना खिलाने की हो तो अच्छे-अच्छों को नानी याद आ जाती है।

सबसे ज़्यादा मुश्किल तब होती है जब आप अपने शिशु को पहली बार दूध के अलावा खाना खिलाने की शुरुआत करते हैं। क्योंकि बच्चे तो बच्चे होते हैं ज़नाब और वो वही खाते हैं जो उन्हें पसंद आता है न कि आपको।

ऐसी स्थिति में आपको खाने के कुछ ऐसे विकल्प तलाशने पड़ते हैं जो आपके बच्चे के मन को भी भाये और उसकी सेहत के लिए फ़ायदेमंद भी हो।

Story Of Organic Baby Food Products – Ella’s Kitchen In Hindi

 

आप जैसे ही लाखों अभिभावकों की इस छोटी-सी लगने वाली बड़ी मुश्किल का स्वादिष्ट और आसान हल है, ‘एलाज़ किचन’ (Ella’s Kitchen). Paul Lindley द्वारा स्थापित यह कंपनी शिशुओं और छोटे बच्चों के लिए सौ प्रतिशत ऑर्गेनिक खाद्य पदार्थों का निर्माण करती है।

सालाना लगभग 12 करोड़ डॉलर का क़ारोबार करने वाली ‘Ella’s Kitchen’ की लोकप्रियता का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि यह यूनाइटेड किंगडम (UK) में बच्चों के उत्पादों की श्रेणी में सबसे ज़्यादा बिकने वाले, सबसे लोकप्रिय एवं प्रमुख ब्रांडों में से एक है। इतना ही नहीं, यह अमेरिका में भी प्रीमियम ब्रांड के रूप में सभी बड़ी दुकानों में मौजूद है।

एलाज़ किचन की स्वाद और सेहत भरी मज़ेदार दुनिया

लन्दन से 40 मील दूर हेनली नामक जगह पर स्थित ‘एलाज़ किचन’ एक ब्रिटिश कंपनी है जो 4 महीने के शिशुओं से लेकर 3 साल से ज़्यादा उम्र के छोटे बच्चों के लिए खाद्य पदार्थों, स्नैक्स एवं सेहतमंद पेय पदार्थों का निर्माण करती है।

इस कंपनी का उद्देश्य बच्चों के मन में सेहतमंद खाने के प्रति लगाव पैदा करना है ताकि उन्हें स्वस्थ जीवन प्रदान किया जा सके। और इसके लिए ज़रूरी है कि उनके खाने को उत्तम गुणवत्ता वाले अनाजों, फलों और सब्जियों से स्वादिष्ट तथा मज़ेदार बनाया जाये।

‘एलाज़ किचन’ की शुरुआत Paul Lindley ने 2004 में अपनी बेटी ‘एला’ के नाम पर की थी। उसके दो साल बाद 2006 में पहली बार दो उत्पादों के साथ मार्केट में इसका लॉन्च हुआ।

रंग-बिरंगी, सुन्दर और आकर्षक पैकिंग वाले ‘एलाज़ किचन’ के उत्पाद बच्चों के साथ ही उनके माता-पिता का भी ध्यान खींचने में सफ़ल रहे हैं और वर्तमान में ‘एलाज़ किचन’ UK का एक जाना माना बेबी एंड टोडलर फ़ूड ब्रांड है। इसके 200 से भी अधिक प्रकार के उत्पाद मार्केट में उपलब्ध हैं।

बच्चों को समझने के लिए उनकी तरह सोचना है ज़रूरी

एलाज़ किचन की स्थापना करने से पहले पॉल के पास रिटेल के क्षेत्र से जुड़ा कोई ख़ास अनुभव नहीं था। हालाँकि, पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट पॉल इससे पहले लगभग 10 वर्षों तक बच्चों के लोकप्रिय टेलीविज़न चैनल ‘निकलोडियन’ (Nickelodeon) में काम कर चुके थे।

शुरुआत में वे वित्तीय नियंत्रक के रूप में निकलोडियन से जुड़े थे। बाद में उन्होंने कई वर्षों तक उप-प्रबंध निदेशक के पद पर काम करते हुए यूके में निकलोडियन का सारा काम संभाला।


इस दौरान उन्हें मार्केटिंग के क्षेत्र का अच्छा-ख़ासा अनुभव होने के साथ ही विभिन्न आयु वर्ग के बच्चों की सोच को जानने और समझने का भी मौका मिला।

एलाज़ किचन की स्थापना के दौरान उनका यह अनुभव उनके बहुत काम आया क्योंकि बच्चों को समझने और उनसे जुड़ने के लिए उनकी ही तरह सोचना भी ज़रूरी होता है।

बच्चों की सेहत के प्रति जागरूकता का नतीज़ा – एलाज़ किचन

अपनी बेटी एला को पहली बार खाना खिलाना शुरू करने के दौरान पॉल और उनकी पत्नी को बहुत मुश्किल हुई थी। तब वे दोनों हर रोज नये तरह के स्वादिष्ट और सेहतमंद व्यंजन तैयार करके मनोरंजक तरीके से उसे खाना खिलाया करते थे।

2004 में जब उन्होंने अपने बेटे पैडी को खाना खिलाना शुरू किया तो उसके लिए कुछ नया बनाते समय उनके मन में विचार आया कि कुछ ऐसा किया जाये जिससे छोटे बच्चों को सेहतमंद खाने से लगाव हो सके।

उस समय ज़्यादातर लोगों का मानना था कि बच्चों में मोटापे की बढ़ती समस्या का कारण उनका ज़्यादा देर तक टीवी देखना है। हालाँकि, इसका एक सबसे बड़ा कारण अस्वास्थ्यकर आहार (unhealthy food) भी था।

ऐसे में उन्हें सेहतमन्द खाना खाने के लिए प्रेरित करने का सबसे कारग़र तरीका था – उनके खाने को आकर्षक और मनोरंजक बनाना। इसी सोच के साथ पॉल ने 2004 में निकलोडियन से इस्तीफ़ा देकर ‘एलाज़ किचन’ की शुरुआत करने का काम शुरू कर दिया।

दो साल लगातार प्रयास करने के बाद मिली सफ़लता

अपनी अच्छी-खासी नौकरी छोड़ने के बाद पॉल ने अपने आप को 24 महीने का समय दिया और वादा किया कि इन दो सालों में वे अपने आइडिया को बिज़नेस के रूप में स्थापित कर लेंगे।

अपनी जमा पूँजी लगाकर शुरुआत में अपने परिवार के साथ ही दो उत्पादों की रेसिपी तैयार की और अपने उत्पादों की बिक्री के लिए कई सुपरमार्केट्स से संपर्क किया। इन सभी कोशिशों में 20 महीने निकल गए और अब तक उनका बिज़नेस शुरू नहीं हो पाया था। यह समय पॉल के लिए बहुत ही तनावपूर्ण था फिर भी हिम्मत हारे बिना उन्होंने अपना प्रयास जारी रखा।

आखिरकार वो सुनहरा दिन आया जब उनको ब्रिटेन के एक बड़े सुपरस्टोर ‘सेन्सबरीज़’ (Sainsbury’s) ने फ़ोन किया और अपने स्टोर्स से उनके उत्पादों को बेचने के लिए आर्डर दिया।

उसके बाद शुरू हुई दोनों उत्पादों के उत्पादन की तैयारी। उन्होंने अपने घर को दोबारा गिरवी रखकर 200,000 पाउंड्स की धनराशि जुटाई और उत्पादन का काम आउटसोर्सिंग के ज़रिये एक विश्वासी विशेषज्ञ से कराने का फ़ैसला किया।

इसके बाद उन्होंने बच्चों के टेलीविज़न चैनलों से मुलाक़ात की और उन्हें मुफ़्त विज्ञापन की सुविधा प्रदान करने के बदले अपने मुनाफ़े में हिस्सेदारी देने की पेशकश की। इस तरह बात बन गई और एलाज़ किचन के विज्ञापन राष्ट्रीय स्तर पर टीवी के माध्यम से उपभोक्ताओं, ख़ासतौर से बच्चों तक पहुँचने लगे जिससे एलाज़ किचन का नाम सबको पता चलने लगा।


इन सभी प्रयासों ने रंग लाना शुरू कर दिया और एलाज़ किचन की बिक्री बढ़ने लगी। धीरे-धीरे दूसरे बड़े सुपरस्टोर्स ने भी एलाज़ किचन को अपनी दुकानों में जगह देना शुरू कर दिया और एलाज़ किचन एक सुदृढ़ बिज़नेस के रूप में स्थापित हो गया।

इसके बाद कुछ ही सालों में एलाज़ किचन यूके में बच्चों के सबसे सफ़ल ब्रांडों में शामिल होने के साथ ही वैश्विक स्तर पर अपनी पहचान बनाने में क़ामयाब रहा। एलाज़ किचन और पॉल को एक के बाद एक लगातार कई प्रतिष्ठित सम्मानों से भी सम्मानित किया गया।

मई 2013 में अमेरिका की एक बहुत बड़ी कंपनी ‘द हैन सेलेस्टियल ग्रुप’ (The Hain Celestial Group – NASDAQ: HAIN) ने एलाज़ किचन को लगभग 10 करोड़ डॉलर में खरीद लिया और पॉल को बेबी फ़ूड से सम्बंधित बिज़नेस का सीईओ बना दिया।

बच्चों और छोटे व्यापारों के हित में लगातार काम करते पॉल

एलाज़ किचन के बाद पॉल ने अपने बेटे पैडी के नाम पर ‘पैडीज़ बाथरूम’ की स्थापना की। यह कंपनी छोटे बच्चों के लिए ऑर्गेनिक प्रसाधन सामग्री का निर्माण करती थी।

इसके प्रत्येक उत्पाद की बिक्री पर 50 अमेरिकन सेंट ‘ड्रॉप बाय ड्रॉप कार्यक्रम’ के तहत रवांडा और केन्या में बच्चों के लिए साफ़ और शुद्ध पानी उपलब्ध कराने वाली एक कंपनी ‘डेलअग्वा’ (DelAgua) को दान किये जाते थे। इस योजना के तहत तीन साल के दौरान तक़रीबन 70,000 बच्चों की मदद संभव हुई।

पॉल बच्चों के हित से जुड़े मुद्दों को लेकर हमेशा सक्रिय रहे हैं और उनके लिए समय-समय पर कैम्पेन भी चलाते रहे हैं। वे कई परिवार एवं बालकल्याण संस्थाओं से भी जुड़े हुए हैं। 2014 में उन्होंने दक्षिण-सूडानी संगीतकार, पूर्व बाल सिपाही और राजनीतिक कार्यकर्ता इमैनुअल जल (Emmanuel Jal) के साथ साझेदारी में social enterprise ‘द की इज़ ई’ (The Key is E) की भी शुरुआत की।

इसके अलावा पॉल ब्रिटेन में छोटे व्यापारों के हित के लिए विभिन्न सरकारी और निजी सस्थाओं के साथ मिलकर काम करते रहे हैं।

BusinessKahani की राय

जिस समय एलाज़ किचन ने बाज़ार में प्रवेश किया, उस समय नैस्ले, हाइन्ज़ जैसे बड़े-बड़े ब्रांड बाज़ार में पहले से स्थापित थे। ऐसे में बाज़ार में अपनी पहचान क़ायम करना और अपनी जगह बनाना किसी अचम्भे से कम नहीं था।

2006 से लेकर आज तक एलाज़ किचन जिस मुकाम तक पहुंचा है, उसके लिए किसी के भी मुँह से सिर्फ तारीफ़ के ही शब्द निकलेंगे। पॉल और एलाज़ किचन की इस कहानी से बिज़नेस की आइडिया पाने से लेकर बिज़नेस स्थापित करने और उसको सफल बनाने तक अनेकों बातें सीखने को मिलती हैं।

क्या आपको भारत में शिशुओं और बच्चों से सम्बंधित सामानों के बाज़ार में कोई बिज़नेस आइडिया दिखता है? अगर आपको अपनी आइडिया के लिए कोई मदद चाहिए तो हमसे जरुर संपर्क करें।

 

हमारे मेलिंग सूची के लिए सब्सक्राइब करें।

सब्सक्राइब करने के लिए धन्यवाद!

कुछ गलत हो गया..


शेयर करें:-
  • 12
  •  
  •  
  •  
  • 1
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    14
    Shares

कमेन्ट करें