व्यापार मंत्र

एयर फ्रैशनर बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें – How to Start Air Freshener Business in India

शेयर करें:-
  • 16
  •  
  •  
  •  
  • 2
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    19
    Shares

सुगन्धित वातावरण के बीच रहना भला किसे अच्छा नहीं लगता! चाहे घर हो या ऑफ़िस या फ़िर कार, अपने आसपास के वातावरण को तरोताज़ा और सुगन्धित बनाए रखने के लिए आमतौर पर लोग एयर फ्रैशनर (Air Freshener) का उपयोग करते हैं।

एयर फ्रैशनर के बढ़ते इस्तेमाल और इसकी बढ़ती माँग के साथ ही इसके व्यापार में भी काफ़ी वृद्धि हुई है। अगर आपको इत्र और सुगंधों से लगाव है और अपना कोई व्यवसाय करने की सोच रहे हैं तो एयर फ्रैशनर का व्यापार आपके लिए एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है।

आइये जानते हैं कि भारत में एयर फ्रैशनर का व्यवसाय (Air Freshener Business in India) कैसे शुरू किया जा सकता है।

एयर फ्रैशनर के व्यवसाय के बारे में जानकारी एकत्रित करें

सबसे पहले एयर फ्रैशनर के व्यवसाय के बारे में अधिक से अधिक जानकारी जुटाएं। इस क्षेत्र में कार्यरत लोगों से मिलें और उनके अनुभव जानें। एयर फ्रैशनर के बाज़ार की वास्तविक स्थिति का विश्लेषण करें। साथ ही अपने लक्षित ग्राहकों की पसंद-नापसंद, उनकी ज़रूरतों और उनके ख़र्च करने की क्षमता का भी पता लगाएं।

एयर फ्रैशनर बनाना सीखें

अगर आप एयर फ्रैशनर का व्यापार करना चाहते हैं तो पहले इसे बनाना सीखें। इसके लिए आवश्यक विभिन्न प्रकार की सुगंधों, सामग्रियों, उपकरणों एवं निर्माण प्रक्रिया के विषय में जानकारी जुटायें। इसके लिए आप क़िताबों या ऑनलाइन स्रोतों (books or online resources) की मदद ले सकते हैं।

सारी जानकारी जुटाने के बाद ख़ुद एयर फ्रैशनर बनाकर देखें। शुरूआत में आप कम मात्रा में सामग्री जुटाकर भी प्रयोग करना शुरू कर सकते हैं। अपने हर प्रयोग का विवरण अपने पास लिखकर रखें। इससे आपको पता रहेगा कि आपने किस सुगंध और सामग्री को कितनी मात्रा और कितने अनुपात में प्रयोग किया है। ऐसा करने से बाद में जब आप उसे ज़्यादा मात्रा में बनाना चाहेंगे तो आपको आसानी होगी और आपकी सुगंध में कोई कमी भी नहीं रहेगी।

जैसे-जैसे आप एयर फ्रैशनर बनाना सीखते जाएं कुछ नए प्रयोग करके नई-नई तरह की सुगंध बनाकर देखें। इससे आप अपने ग्राहकों को कुछ अलग हटकर पेश करने में भी सक्षम हो सकेंगे।

वैसे तो आप किसी बड़े सप्लायर से संपर्क करके अपनी पैकेजिंग और ब्रांडिंग के जरिये एयर फ्रैशनर का अपना बिज़नेस शुरू कर सकते हैं लेकिन इसमें आपको अपने ग्राहकों को कुछ नया देने की सुविधा कम हो सकती है।

अपने से एयर फ्रैशनर बना कर आप काफी बढ़िया नाम कमा सकते हैं और एक बार सीख जाने पर आप होलसेल के सप्लायर भी बन सकते हैं।

 ग्राहकों की पसंद के अनुसार सुगंध का चुनाव करें

आमतौर पर एयर फ्रैशनर में विभिन्न प्रकार के फूलों और एसेंशियल ऑयल्स (flowers and essential oils) की सुगंधों को ज़्यादा पसंद किया जाता है। अपने एयर फ्रैशनर के उत्पादन के लिए विभिन्न सुगंधों का चयन करते समय लक्षित ग्राहकों की पसंद को ध्यान में रखें। आख़िर आप अपने उत्पाद का निर्माण अपने ग्राहकों के लिए ही तो कर रहे हैं।

इस बात पर भी ध्यान दें कि आप किस जगह पर इस्तेमाल करने के लिए एयर फ्रैशनर बना रहे हैं जैसे कि कार, घर या ऑफिस और घर में भी ड्राइंगरूम या बेडरूम इत्यादि।

बिज़नेस प्लान बनायें और पूँजी का प्रबंध करें

एयर फ्रैशनर का बिज़नेस शुरू करने के लिए आपके पास एक उचित व्यावसायिक योजना (business plan) का होना ज़रूरी है। इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए अनिवार्य सभी संसाधनों तथा प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष ख़र्चों की सूची बनायें। सारा विवरण लिखित रूप में अपने पास रखें और इसके अनुसार आवश्यक पूँजी का प्रबंध करें।

यह भी पढ़ें :  

I – बिज़नेस प्लान है व्यापार का सबसे महत्वपूर्ण दस्तावेज – How To Write A Business Plan In Hindi?

II – स्टार्टअप के सफर में फंडिंग के मुख्य चरण – Stages of Startup funding in Hindi

 

अपने व्यवसाय और उत्पाद के लिए विशिष्ट नाम का चुनाव करें

आपके व्यवसाय की सफ़लता में उसके नाम का भी एक अहम योगदान होता है। जिन उत्पादों या कम्पनियों के नाम सामान्य से अलग हटकर कुछ ख़ास होते हैं वो अक्सर अनायास ही हमारी ज़ुबां पर चढ़ जाते हैं और बाद तक याद रह जाते हैं। इसलिए अपने व्यवसाय और उत्पाद के लिए कोई ख़ास और रचनात्मक नाम चुनें।

उपयुक्त व्यावसायिक स्थल का चुनाव करें

एयर फ्रैशनर या परफ्यूम का व्यवसाय करने के लिए आपको अपने किसी नज़दीकी व्यावसायिक स्थल का चुनाव करना चाहिए। अगर आप रिहायशी क्षेत्र में इस उद्योग को शुरू करते हैं तो यह क़ानून एवं सुरक्षा की दृष्टि से तर्कसंगत एवं उचित नहीं होगा। अतः इसके लिए किसी व्यावसायिक क्षेत्र में अच्छी तरह देखभाल करके पहले से ही स्थान सुनिश्चित कर लें।

अपने व्यवसाय का पंजीकरण कराएं और ज़रूरी लाइसेंस लें

अपने क्षेत्र में एयर फ्रैशनर का व्यवसाय करने के लिए आवश्यक सभी क़ानूनी मानकों की जानकारी पहले ही ले लें। इसके बाद सभी आवश्यक प्रक्रियाओं को पूरा करते हुए अपने व्यवसाय को सम्बंधित विभाग में पंजीकृत कराएं।

अपने उद्योग के लिए अनिवार्य सभी प्रकार के लाइसेंस भी अवश्य लें ताकि आपको भविष्य में किसी भी प्रकार की क़ानूनी असुविधा का सामना ना करना पड़े। साथ ही बिजली और पानी जैसी अन्य मूलभूत सुविधाओं का भी कनेक्शन ले लें।

आवश्यक संसाधनों का प्रबंध करें

पंजीकरण और लाइसेंसिंग की प्रक्रिया पूरी करने के बाद उद्योग शुरू करने के लिए आवश्यक संसाधनों की व्यवस्था करें। ज़रूरी मशीनों और कच्चे माल का प्रबंध करें। इसके लिए अपने क्षेत्र में मौज़ूद आपूर्तिकर्ताओं से संपर्क करें। ऐसे स्रोतों का पता लगाएं जहाँ से आपको उचित मूल्य पर उत्तम गुणवत्ता वाले कच्चे माल की लगातार आपूर्ति होती रहे।

साथ ही अपने व्यवसाय के लिए आवश्यक कर्मचारियों का भी प्रबंध करें। इसके लिए शुरुआत में आप सीमित संख्या में कर्मचारियों की नियुक्ति कर सकते हैं।

अपने उत्पाद के प्रचार और मार्केटिंग पर दें ध्यान

उत्पाद तैयार होने के बाद बारी आती है उसे बाज़ार में उतारने की। इसलिए अपने उत्पाद के प्रचार और मार्केटिंग के लिए रणनीति बनाएं। स्थानीय विज्ञापन सेवाओं के साथ ही सोशल मीडिया के माध्यम से भी प्रचार करें ताकि अधिक से अधिक लोगों को आपके उत्पाद के बारे में जानकारी मिल सके।

ऑनलाइन बिक्री के लिए अपनी वेबसाइट तैयार करवायें

आज के समय में किसी भी व्यवसाय की सफ़लता में उसकी ऑनलाइन उपस्थिति का भी हाथ होता है। इसलिए बाज़ार में अपनी पहुँच बनाने के साथ ही ऑनलाइन माध्यम का भी उपयोग करें। अपने व्यवसाय के लिए एक वेबसाइट बनवायें और उसके द्वारा अपने उत्पाद की बिक्री करें।

इस तरह आप अपने उत्पाद को थोक-विक्रेताओं को बेचने के साथ ही अपने ग्राहकों तक सीधे पहुँच बनाने में सक्षम हो सकेंगे। साथ ही आप अपने ग्राहकों की प्रतिक्रियाएँ और उनकी अपेक्षाएँ भी जान पाएँगे।

हमारे मेलिंग सूची के लिए सब्सक्राइब करें।

सब्सक्राइब करने के लिए धन्यवाद!

कुछ गलत हो गया..


शेयर करें:-
  • 16
  •  
  •  
  •  
  • 2
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    19
    Shares

कमेन्ट करें