व्यापार मंत्र

बच्चों की पार्टी से भी बन सकता है व्यापार (how to start kids party business)

शेयर करें:-
  • 10
  •  
  •  
  •  
  • 5
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    16
    Shares

यूँ तो किसी भी ख़ास मौके पर ख़ुशियाँ मनाने के लिए पार्टी का आयोजन करना बड़ी ही आम बात है। लेकिन बात जब बच्चों के लिए पार्टी आयोजित करने की आती है तो उन्हें ख़ुश करने के लिए कुछ मज़ेदार और अनूठा तरीका सोचना पड़ता है और यह काम कर पाना हर किसी के बस की बात नहीं होती। यही कारण है कि ज़्यादातर अभिभावक इस काम के लिए प्रोफ़ेशनल किड्स पार्टी प्लानर (Professional Kids’ Party Planner) की मदद लेते हैं।

किड्स पार्टी प्लानिंग (chhote bachho ki party Planning) भी इवेंट प्लानिंग (Event Planning) का ही एक हिस्सा है जिसमें ख़ासतौर से बच्चों के लिए पार्टी आयोजित की जाती हैं। पार्टी आयोजक बच्चों एवं अभिभावकों की पसंद तथा आयोजन के अनुरूप एक उपयुक्त थीम चुनकर पार्टी का सारा प्रबंध करते हैं। साथ ही मेहमानों को निमंत्रण और उपहार देने, साज-सज्जा, जलपान, मनोरंजन इत्यादि पार्टी के शुरू होने से लेकर ख़त्म होने तक सभी काम सम्भालते हैं।

                                  Starting a kids party planning business tips in hindi

बड़े शहरों में ज़्यादातर लोग अपने बच्चों के लिए किसी भी ख़ास मौके पर पार्टी का आयोजन करने के लिए Children’s party planner की ही मदद लेते हैं। यही चलन धीरे-धीरे अब छोटे शहरों में भी ज़ोर पकड़ता जा रहा है। आजकल हर छोटे-बड़े शहर में बच्चों के लिए पार्टी आयोजित करने वाले kids party planners की बहुत माँग है।

इसलिए अगर आप अपना व्यापार शुरू करने की सोच रहे हैं और आपको बच्चों के साथ खेलना, उनके साथ वक़्त बिताना और पार्टी करना पसंद है तो किड्स पार्टी प्लानिंग का बिज़नेस आपके लिए सबसे बेहतरीन विकल्प है।

आइये जानते हैं कि यह व्यवसाय शुरू करने के लिए आपको क्या-क्या तैयारियाँ करनी होंगी और आप इस व्यापार की शुरुआत कैसे कर सकते हैं।

किड्स पार्टी आयोजन से जुड़ी जानकारी इकठ्ठा करें

कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी होना ज़रूरी है। इसलिए अगर आप बच्चों के लिए पार्टी आयोजन करने का काम शुरू करना चाहते हैं तो इस क्षेत्र से सम्बंधित अधिक-से-अधिक जानकारी जुटाने की कोशिश करें।

आप इस क्षेत्र में काम करने वाले लोगों से मिलकर उनसे जानकारी ले सकते हैं। बच्चों की अलग-अलग थीम पर आयोजित होने वाली पार्टियों में शामिल हों और वहाँ पार्टी आयोजक के काम करने के तरीक़े पर ग़ौर करें।

अगर आप चाहें तो इस व्यवसाय से सम्बंधित कोई प्रोफ़ेशनल कोर्स भी कर सकते हैं या बच्चों की पार्टी आयोजित करने वाले किसी आयोजक के साथ कुछ समय सहायक के रूप में काम भी कर सकते हैं। इससे आपको इस क्षेत्र में काम करने का व्यावहारिक अनुभव प्राप्त होगा।

विभिन्न प्रकार के मनोरंजक क्रियाकलापों एवं थीम का चुनाव करें

बच्चों के लिए आयोजित होने वाली पार्टी की थीम ऐसी होनी चाहिए जो उनकी पसंद पर आधारित होने के साथ ही मनोरंजक और रचनात्मक भी हो और साथ ही उनकी कल्पनाओं में रंग भी भरे।

नए-नए खेल खेलना, जादू दिखाना, कहानी सुनाना, लोकप्रिय कार्टून या सुपरहीरो चरित्र का किरदार निभाना, कठपुतली का खेल दिखाना, कला एवं शिल्प, नृत्य तथा संगीत जैसे बहुत से मनोरंजक क्रियाकलाप हैं जिनसे आप बच्चों का मनोरंजन कर सकते हैं।

लागत का आंकलन करें और बिज़नेस प्लान बनायें

इस व्यवसाय के लिए आवश्यक संसाधनों के आपूर्तिकर्ताओं से उनका मूल्य पता करें। साथ ही अन्य सभी संभावित ख़र्चों को जोड़कर कुल लागत का आंकलन करें। उसके अनुसार अपना बिज़नेस प्लान तैयार करें।

पर्याप्त वित्त का प्रबंध करें

पूरी योजना का ख़ाका तैयार करने के बाद आवश्यक वित्त का प्रबंध करें। इसके लिए आप अपनी ख़ुद की जमा-पूँजी का उपयोग करें तो बेहतर है। लेकिन अगर ऐसा संभव ना हो तो किसी दोस्त या परिवार के सदस्य से सहायता लें।

अगर वो भी मुमक़िन ना हो पाए तो आप व्यापार ऋण (Business Loan) अथवा किसी प्राइवेट निवेशक (Private Investor) या एंजेल निवेशक (Angel Investor) की मदद भी ले सकते हैं। लेकिन हर परिस्थिति में कोशिश करें कि कम से कम पूँजी में आप अपना व्यवसाय शुरू कर सकें।

ऑफ़िस के लिए उपयुक्त स्थान का चुनाव करें

अपने ग्राहकों से मिलने और बैठकर बातचीत करने के लिए आपको एक ऑफ़िस की ज़रुरत होगी। अगर आप इस व्यवसाय की छोटे-स्तर पर शुरुआत कर रहे हैं और आपका बजट सीमित है तो आप अपने घर में ही किसी उपयुक्त जगह पर ऑफ़िस बना सकते हैं। और अगर आपका बजट ज़्यादा हो तो आप अपने ऑफ़िस के लिए किसी लोकप्रिय व्यावसायिक स्थल का भी चुनाव कर सकते हैं।

व्यवसाय का पंजीकरण करायें

बेहतर होगा कि आप अपने इस व्यवसाय को उपयुक्त श्रेणी में पंजीकृत करा लें ताकि आपको भविष्य में किसी तरह की क़ानूनी उलझनों का सामना ना करना पड़े।

सहायकों और कर्मचारियों की नियुक्ति से पहले पुलिस वेरिफिकेशन करायें

बच्चों की सुरक्षा हमेशा सर्वोपरि रखें और हो सके तो अपने साथ-साथ सभी कर्मचारियों का police verification का प्रमाण रखें। ऐसा प्रमाण रखने और दिखाने से अभिभावकों को आपकी सेवा लेने में कोई हिचकिचाहट नहीं होगी और वो आपको एक जिम्मेदार व्यवसायी के रूप में देखेंगे।

यदि हो सके तो टीम में एक-दो लोगों को फर्स्ट एड (First Aid) की भी ट्रेनिंग दिलवाएं ताकि पार्टी के दौरान किसी भी तरह की दुर्घटना की स्थिति में प्राथमिक सहायता तुरंत उपलब्ध हो।

यह सभी कदम आपको अपने प्रतिस्पर्धियों से आगे जाने में मदद देंगे।

आवश्यक संसाधन जुटाएं

आपको अगर किसी किड्स पार्टी का ऑर्डर मिलता है तो उसके लिए आपको कौन-कौन से सामान, विशेषज्ञों और सहयोगियों की ज़रुरत होगी, इसका सारा विवरण लिखकर तैयार कर लें।

इसमें कुछ सामान ऐसे होंगे जिनका प्रबंध आपको आयोजन की आवश्यकता के अनुरूप उसी समय करना होगा, उनके लिए अनुमानित पूँजी की व्यवस्था करके रखें। और जो सामान आपको अपने पास हर समय तैयार रखना है, उसे ख़रीद लें।

अपनी चुनिंदा थीम के अनुसार आपको जिन भी कलाकारों या विशेषज्ञों की आवश्यकता हों, उनके संपर्क में बने रहें।

अपने व्यवसाय का प्रचार ज़रूर करें

व्यापार चाहे कोई भी हो लेकिन उसकी सफ़लता में प्रचार का बहुत बड़ा हाथ होता है। इसलिए आप अपने व्यवसाय का प्रचार करने के लिए पैम्फ़लेट, फ्लेक्सी बोर्डों, सोशल मीडिया या स्थानीय विज्ञापन आदि माध्यमों का उपयोग कर सकते हैं।

हालांकि आपके किड्स पार्टी प्लानिंग के व्यवसाय का प्रचार करने के लिए आपके मित्र और जानकार सबसे बेहतर माध्यम हैं क्योंकि वे अपने नेटवर्क के लोगों को आपके व्यवसाय और उसकी ख़ूबियों की जानकारी देते हैं और ज़्यादातर अभिभावक अपने बच्चों की पार्टी के लिए किसी जानकार व्यक्ति को ही संपर्क करते हैं।

बच्चों की पसंदनापसंद का ध्यान ज़रूर रखें

बड़ों के मुक़ाबले बच्चों का मनोरंजन करना थोड़ा कठिन होता है क्योंकि अगर कोई बात उनके मन नहीं भाती तो कई बार वो रूठ जाते हैं या गुस्सा होकर रोने-चिल्लाने भी लगते हैं। ऐसे में उन्हें संभालना बड़ा मुश्किल हो जाता है।

इसलिए बच्चों के लिए पार्टी की योजना बनाने से पहले आपको उनकी पसंद-नापसंद की जानकारी होना बहुत ज़रूरी है। इससे आपको उनकी पसंद के अनुसार पार्टी की थीम का चुनाव करने में आसानी रहती है। इस काम के लिए आप उनके अभिभावकों की मदद ले सकते हैं क्योंकि अपने बच्चे की ख़ास पसंद या नापसंद के बारे में वो आपको बेहतर जानकारी दे सकते हैं।

बच्चों और उनके अभिभावकों की प्रतिक्रियाओं पर ग़ौर करें

पार्टी के दौरान बच्चों की प्रतिक्रिया और उनकी पसंद-नापसंद पर ध्यान दें और उसके अनुसार उनका अधिक से अधिक मनोरंजन करने का प्रयास करें। साथ ही उनके अभिभावकों की प्रतिक्रियाओं और सुझावों पर भी ग़ौर करें। इससे आप उन्हें और अपने भावी ग्राहकों को बेहतर सेवा दे पायेंगे।

Business kahani को यह उम्मीद है कि आपको यह जानकारी उपयोगी लगा होगा और अपना किड्स पार्टी प्लानिंग का व्यवसाय शुरू करने के लिए आत्मविश्वास बढ़ा होगा। इस लेख से जुड़े अपने विचार हमको जरुर भेजें।

हमारे मेलिंग सूची के लिए सब्सक्राइब करें।

सब्सक्राइब करने के लिए धन्यवाद!

कुछ गलत हो गया..


शेयर करें:-
  • 10
  •  
  •  
  •  
  • 5
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    16
    Shares

कमेन्ट करें