व्यापार मंत्र

सफल उद्यमी बनने के लिए अपने मन के इस दानव को मारना है ज़रूरी

शेयर करें:-
  • 8
  •  
  •  
  •  
  • 2
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    11
    Shares

आपको अपनी बिज़नेस आइडिया मिल गयी और आप पूरी प्रेरणा के साथ उस पर काम शुरू कर देतें हैं. कुछ दिनों के अन्दर आपके मन में एक सोया हुआ दानव तत्पर हो जायेगा और आपके मन में संदेह भरना शुरू कर देगा. आपके विचारों को नकारात्मक दिशा में धक्का देगा, आपको असफलता का डर सताने लगेगा, आपको लगेगा कि मेरा समय और मेहनत व्यर्थ हो सकता है. आपने जितने ही ज्यादा जोश के साथ काम की शुरुआत की थी, यह वैचारिक दानव उससे कहीं ज्यादा बल से आपको पीछे खींचने का प्रयास करेगा. अगर आप इस दानव को शीघ्र नहीं मारेंगे तो यह आपकी प्रेरणा को मार देगा और आपके बिज़नेस का बड़ी ही कच्ची उम्र में आसानी से वध कर देगा.

नकारात्मक विचारों से छुटकारा पायें (get rid of negative thoughts)

शुक्र है कि ऐसे दानव को मारने का उपाय बना हुआ है, कुछ लोग कम समय में ही इससे छुटकारा पा लेते हैं और कुछ को थोड़ा सा समय लग सकता है. यह दानव आपके मन में सोच के माध्यम से घुसता है इसलिए इसको परास्त करने का उपाय भी आपकी सोच में ही है. एक सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ नीचे लिखी बातों को ध्यान से सोचकर आप इस दानव को मारने में कामयाब हो सकते हैं.

क- एक लिस्ट बनाईये कि आप कौन-कौन सी अच्छी बातों की वजह से बिज़नेस शुरू कर रहे हैं और आपके सफल होने पर क्या फ़ायदे होने वाले हैं. अपनी सफलता का सपना हमेशा दृष्टिगत (Visualise) करके देखिये.

ख- आपके व्यापार से समाज के ऊपर पड़ने वाले अच्छे प्रभावों के बारे में सोचिये. आप के व्यापार से लोगों का जीवन आसान होगा, नौकरियों का निर्माण होगा, समाज का विकास होगा और आपके इस साहसिक कदम से बहुत से परिवारों में खुशहाली आयेगी. ऐसी बड़ी तस्वीर के बारे में सोचने से दानव को मारने के लिए बहुत ताकत मिलती है.

ग- बिज़नेस की दुनिया के मित्रों या मार्गदर्शक से बात करिए. याद रखिये, ये सभी इस दानव का सामना कर चुके हैं इसलिए आपको महत्वपूर्ण जानकारी दे सकते हैं.

घ- छोटे कदमों से आगे बढ़िये. इस बात को बार-बार सोचिये कि अच्छा और बड़ा काम सफल होने में समय लेता है. आपका हर एक कदम आपको मंजिल के करीब ले जाएगा और कुछ समय बाद इस सफ़र में उम्मीद का इंधन भर जायेगा.

– नकारात्मक बात करने वाले दोस्तों और रिश्तेदारों से उचित दूरी बनाकर रखिये. हमारे एक मित्र ने ‘शुभचिन्तक’ की बहुत अच्छी परिभाषा बनाई है, उनके अनुसार ”आपका शुभ होता देखकर जिसको चिन्ता होती है उसको आप ‘शुभचिन्तक’ की श्रेणी में रख सकते हैं.”

च- अच्छी किताबें पढ़िए, दूसरे सफल बिज़नेस और उनको शुरू करने वालों की चुनौतियों के बारे में जानकारी इकठ्ठा करिए तथा हमारी इस वेबसाइट की प्रेरणादायक कहानियाँ पढ़िए.

छ- इस बात का हमेशा ध्यान रखिये कि नकारात्मक सोच (negative thinking) का आना प्रकृति का नियम है और इसको दूर भगाना आपके बिज़नेस करने का एक अभिन्न अंग है. हर व्यक्ति अपनी पूरी शक्ति का उपयोग न कर पाने की शंका, समय की बर्बादी या भविष्य के प्रश्नों को लेकर डरता रहता है.

आपके मन में नकारात्मक सोच पैदा करने वाले इस दानव से लड़ना आसान बात नहीं होती है. परन्तु हमने देखा है कि इसको परास्त करके आगे बढ़ा जा सकता है. हमें पूरी उम्मीद है कि आप लोग इन उपायों को अपनाकर निरंतर आगे बढ़ेंगे.

अगर इस दानव को मारने के अन्य उपाय सुझाना चाहते हैं तो जरुर कमेंट करिए और हमारे नेटवर्क के सभी पाठकों से शेयर करिए.

हमारे मेलिंग सूची के लिए सब्सक्राइब करें।

सब्सक्राइब करने के लिए धन्यवाद!

कुछ गलत हो गया..


शेयर करें:-
  • 8
  •  
  •  
  •  
  • 2
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    11
    Shares

कमेन्ट करें