प्रेरणादायक कहानियाँ

संगीत रचना अब रिकॉर्डिंग स्टूडियो में नहीं बल्कि हथेलियों पर कर सकते हैं – ‘स्म्यूल’ के जरिये

शेयर करें:-
  • 4
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    5
    Shares

गाना गाना या सुनना दुनिया में शायद ही कोई होगा जिसे अच्छा ना लगता हो। हमारी तरह शायद आपने भी यह महसूस किया होगा कि पूरे दिन काम करके घर लौटते वक़्त अगर कुछ अच्छी धुनें कानों में पड़ जाती हैं तो थकान कम हो जाती है या यूँ कहें ‘मूड फ्रेश’ हो जाता है। सिर्फ सुनते ही नहीं, हममें से अधिकतर लोग अपने पसंदीदा गानों को गाने की कोशिश भी करते हैं, चाहे वो बाथरूम में नहाते वक़्त हो या अपने दोस्तों के साथ ग्रुप में या फिर फॉर्मल पार्टीज अथवा प्रोग्राम्स में।

यह कहना कतई गलत नहीं होगा कि हम सबमें विभिन्न मात्रा में कहीं न कहीं किशोर कुमार या लता मंगेशकर छुपे हुए हैं, पर हममें से कुछ ही लोग हैं जो इस टैलेंट को दुनिया तक पहुंचा पाते हैं। हम सब जानते हैं कि टैलेंट होते हुए भी म्यूजिक इंडस्ट्री में घुस पाना और गीतकार, गायक, म्यूजिशियन या कंपोजर बन पाना आसान नहीं है, पर अब यह बहुत तेजी से बदलने वाला है।

Smule’s Business Kahani In Hindi

अब संगीत रचना कुछ प्रभावी लोगों के हाथ में सीमित नहीं रहने वाली है बल्कि आम जनता के हाथ में यह बागडोर देने का प्रयास शुरू हो चुका है। जी हाँ, ‘स्म्यूल’ संगीतप्रेमियों के लिए एक ऐसी भेंट है जो संगीत में रूचि रखने वाले हर इंसान को संगीत की रचना का अवसर प्रदान करता है। यह लोगों को, चाहे वो एक दूसरे से सात समंदर पार कहीं दूर देश में ही क्यों ना हों, एक दूसरे से संगीत के जरिये जुड़ने का मौका देता है।

अपने मन पसंद गाने को लोग चाहें तो सोलो, डुएट या ग्रुप में पूरे रिकॉर्डिंग म्यूजिक के साथ एक पॉप स्टार या मशहूर संगीतकार की तरह ऑनलाइन गा सकते हैं। इसके लिए उन्हें रिकॉर्डिंग स्टूडियो में जाने की ज़रुरत नहीं पड़ती बल्कि उनकी हथेली पर ‘मोबाइल ऐप’ के जरिये रिकॉर्डिंग स्टूडियो मौजूद होता है। इतना ही नहीं, अब तो फैन्स को अपने पसंदीदा कलाकारों के साथ डूएट काराओकी (Karaoki) भी गाने का मौका दे रहा है ‘स्म्यूल’। यह सब संगीत प्रेमियों और फैन्स के लिए एक सपना था, जो अब हकीकत बन चुका है।

एक सोशल संगीत प्लैटफार्म -‘स्म्यूल’

‘स्म्यूल’ एक अमेरिकन (सैन फ्रान्सिस्को बेस्ड) मोबाइल ऐप की कंपनी है, जो सोशल संगीत रचना करने वाली ऐप्स बनाती है। फेसबुक या लिंक्डइन की तरह यह संगीत का एक मशहूर सोशल प्लैटफॉर्म बन चुका है। इसकी स्थापना 2008 में जेफ्फ स्मिथ और स्टैनफ़र्ड यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर जी वांग (Ge Wang) ने की और यह उनकी दूरदर्शिता का ही नतीजा है कि यह कंपनी साल-दर-साल 70 प्रतिशत की रफ़्तार से बढ़ रही है। संगीत बनाने, गाने और दूसरों से शेयर करने के लिए दुनिया की आबादी के 4% से भी ज्यादा लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं और यह संख्या दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है।

सबसे आकर्षित करने वाली बात यह है कि यहाँ लोग अकेले भी गा सकते हैं और दूसरों के साथ भी जो कि उनका मित्र, अजनबी या कोई बहुत बड़ा पॉप-स्टार हो सकता है। ‘स्म्यूल’ के प्रति लोगों का प्रेम बढ़ता जा रहा है क्योंकि इतनी आसानी से अपनी संगीत कला को मित्रों और परिवारजनों से साझा करने की ख़ुशी का एहसास कुछ अलग ही होता है।

जेफ्फ स्मिथ की सोच

‘स्म्यूल’ के फाउंडर जेफ्फ स्मिथ ने यू.एस.ए. के मशहूर ‘स्टैनफ़र्ड’ विश्वविद्यालय से कंप्यूटर साइंस में डिग्री प्राप्त की। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत 25 साल पहले इंजीनियर के रूप में की लेकिन बाद में वापस ‘स्टैनफ़र्ड’ गए और इस बार कंप्यूटर साइंस के लिए नहीं बल्कि  संगीत में पी.एच.डी लेने के लिए। इस बात से आपको थोड़ा आश्चर्य हुआ होगा परन्तु उनकी इसी अनोखी शिक्षा की वजह से ‘स्म्यूल’ का जन्म हो पाया। डेटा साइंस की जानकारी ने उन्हें यह समझने में मदद की कि लोग संगीत में अधिकतर क्यों संलग्न होते हैं और परिणामतः उन्हें ‘स्म्यूल’ की प्रेरणा मिली।

‘स्म्यूल’, जेफ्फ की पहली कंपनी नहीं है। अपने 24 वर्षों के कार्यकाल में उन्होंने अनेकों कंपनियों को स्टार्ट किया, कुछ को बेचा और कुछ को शेयर मार्केट में पब्लिक किया। ‘स्म्यूल’ से वो अब तक जुड़े हैं और लगातार उसे नई ऊंचाइयों पर पहुँचाने में कार्यरत हैं।

इतना ही नहीं, वह अपने संगीत और टेक्नोलॉजी के अनोखे ज्ञान को स्टैनफर्ड यूनिवर्सिटी में डेटा विज्ञान और संगीत की शिक्षा देकर साझा कर रहे हैं। जेफ्फ यह मानते हैं कि टेक्नोलॉजी का अधिकतम विकास आज संगीत के बोझिल होते अस्तित्व को फिर से लौटा सकता है और उसे उसकी जड़ों से जोड़ सकता है।

अब यह सिर्फ एक पेशा नहीं बल्कि आम जनता के लिए अपने आप को व्यक्त करने का एक जरिया बनने में सक्षम है। जेफ्फ ने शायद यह भांप लिया था कि वॉयस मॉड्यूलेशन से बेहतरीन क्वालिटी का रिकॉर्ड किया हुआ संगीत बार-बार सुनने का समय अब गुज़र रहा है और अब संगीत के लिए दोबारा अपनी जड़ें ढूँढने का समय आ रहा है, जहाँ संगीत रचना और अभिव्यक्ति आम जनता के हाथों में होगी। इसी लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए एक खुला मंच बनाकर संगीत को जनता के हाथ में वापस सौंपने का काम किया है जेफ्फ ने।

कैसे कमाई करता है ‘स्म्यूल’?

यह किसी भी दूसरे ऐप की तरह ‘सब्सक्रिप्शन बेस्ड’ मॉडल पर आधारित है। इस मॉडल में चूँकि यूज़र्स खुद ही संगीत बनाते हैं इसलिए बड़े रिकॉर्ड लेबल्स से लाइसेंसिंग का कोई झंझट ही नहीं होता। ‘स्म्यूल’ के जरिये एक दिन में मोबाइल फ़ोन पर लगभग 2 करोड़ गाने बजाये जाते हैं और प्रतिदिन लगभग 20 टेराबाइट्स का डेटा अपलोड और शेयर किया जाता है। इन आंकड़ों से आप अनुमान लगा सकते हैं कि ‘स्म्यूल’ की लोकप्रियता किस स्तर पर पहुँच गयी है।

2008 से लेकर अब तक ‘स्म्यूल’ ने अनेकों ऐप अपने यूजर्स के लिए बनाये हैं जिनमें से कुछ हैं, sing!karaoke, Guitar, Auto Rap, Magic piano इत्यादि। sing!karaoke पर पॉप स्टार ‘जेस्सी जे’ का ‘टॉम ब्लिस्बी’ नामक एक फैन के साथ गाया हुआ ‘डूएट’ यू ट्यूब पर बहुत लोकप्रिय हुआ और रातों रात टॉम को बड़ी पहचान मिली। सही अर्थ में यही ‘स्म्यूल’ का उद्देश्य और विश्वास है। संगीतकार और पॉप स्टार्स को भी ‘स्म्यूल’ जैसे इंटरैक्टिव प्लैटफॉर्म्स की बढ़ती लोकप्रियता का अंदाज़ा है और उन्हें पता है कि ऐसे मंचों के द्वारा अपने फैन से जुड़े रह कर ही संगीत के इस बदलते स्वरुप को गले लगाया जा सकता है। शायद यही कारण है कि बड़े-बड़े सुपर स्टार्स भी ‘स्म्यूल’ जैसे प्लैटफॉर्म्स को अपना रहे हैं।

क्या है आपकी राय?

क्या आने वाले समय में बड़े रिकॉर्ड लेबल्स का अस्तित्व रह पायेगा? क्या ‘स्म्यूल’ जैसे प्लैटफॉर्म्स, जिन्होंने संगीत की धरोहर को जनता के हाथों में सौंपने का बीड़ा उठाया है, उनकी जगह ले लेंगे? ‘स्म्यूल’, जो कि सिर्फ दूसरों के गाने ही नहीं बल्कि लोगों को नए गाने बनाने अथवा गाने की भी सुलभता प्रदान कर रहा है, क्या सही मायने में कल के संगीत का भविष्य है? क्या आपने कभी ऐसे ऐप का प्रयोग किया है और अपने गाने को फेसबुक या यू ट्यूब पर शेयर किया है? अगर नहीं तो प्रयोग करके देखिए, शायद आपके अन्दर का सोया हुआ कलाकार बाहर निकल आए और आप मशहूर हो जाएँ।

अपने अनुभव को हमसे और इस हिंदी कहानी (smule’s kahani in hindi) को अपने मित्रों से ज़रूर शेयर करें।

हमारे मेलिंग सूची के लिए सब्सक्राइब करें।

सब्सक्राइब करने के लिए धन्यवाद!

कुछ गलत हो गया..


शेयर करें:-
  • 4
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    5
    Shares

कमेन्ट करें