प्रेरणादायक कहानियाँ

किराये पर डीवीडी देते-देते खड़ा कर दिया 136 अरब डॉलर का बिज़नेस, इसे कहते हैं धमाकेदार सफ़लता – Success Story of Netflix

शेयर करें:-
  • 25
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    26
    Shares

आज से कुछ दशक पहले तक ज़्यादातर घरों में मनोरंजन का सबसे पसंदीदा साधन टेलीविज़न हुआ करता था। उन दिनों में लोगों को रोज़ाना एक निश्चित समय पर ही कार्यक्रम देखने को मिलते थे। आपमें से कुछ को शायद पता होगा कि चित्रहार, हमलोग , हम पांच, मालगुडी डेज़, चंद्रकांता जैसे कार्यक्रमों को देखने के लिए हम हर सप्ताह बेसब्री से इंतजार करते थे और अपने कामों को इनके इर्द-गिर्द इस तरह सेट करते थे कि अपना फेवरिट कार्यक्रम न छूट जाये। क्योंकि कार्यक्रम छूटने का मतलब पूरी तरह से छूटना ही था, ना कोई रिकॉर्डिंग और ना ही कोई पुनः प्रसारण (Repeat Telecast)। परन्तु जैसे-जैसे समय बीता तकनीक के साथ मनोरंजन की दुनिया में भी अनेकों बदलाव आये।

70 के दशक में वीसीआर के आने के बाद से लोगों को अपनी मनपसंद फ़िल्मों और वीडियो रिकॉर्डिंग को अपनी सुविधानुसार किसी भी समय देखने का एक आसान विकल्प मिल गया। फ़िर 1996 में पहली बार सीडी/डीवीडी प्लेयर बाजार में आया।

1997 में जब अमेरिका में पहली बार डीवीडी प्लेयर बिकने शुरू हुए तो उसके साथ ही वहाँ वीसीआर कैसेट की तरह डीवीडी किराये पर उपलब्ध कराने के व्यवसाय की भी शुरुआत हुई।

इस बदलाव के दौर में जन्म हुआ एक ऐसी नई कंपनी का जिसने डीवीडी रेंटल और घर बैठकर फ़िल्में देखने की सुविधा के क्षेत्र में क्रांति ला दी। वह कंपनी कोई और नहीं बल्कि ‘नेटफ़्लिक्स’ (Netflix) है जिसे आज मनोरंजन की दुनिया में एक दिग्गज कंपनी के रूप में जाना जाता है।

Netflix 2015 logo.svg
By Netflix – https://www.netflix.com/, Public Domain, Link

क्या है नेटफ़्लिक्स?

नेटफ्लिक्स (Netflix) एक लोकप्रिय वीडियो स्ट्रीमिंग सेवा और डिजिटल मनोरंजन की कंपनी है जो 190 देशों में लगभग 12.5 करोड़ उपयोगकर्ताओं की पसंदीदा है। 30 अप्रैल 2018 को कंपनी का बाज़ारी पूंजीकरण (Market Capitalisation) लगभग 136 अरब अमेरीकी डॉलर था। (source: https://www.nasdaq.com/symbol/nflx).

नेटफ़्लिक्स के 35,000 से भी अधिक कार्यक्रमों (netfllix shows) में सम्मान प्राप्त (award-winning) मौलिक श्रृंखलाएँ (netflix series), मिनीसीरीज़ (miniseries), वृत्तचित्र (netflix documentaries) और फ़िल्में (netflix movies) शामिल हैं।

नेटफ़्लिक्स की सदस्यता लेकर आप एक निश्चित मासिक शुल्क का भुगतान करके कभी भी, कहीं भी, किसी भी इंटरनेट संयोजित उपकरण (मोबाइल, कंप्यूटर, आईफ़ोन, आईपैड, स्मार्ट टीवी इत्यादि) पर अपने मनपसंद टेलीविज़न कार्यक्रम, डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म, लाइव वीडियो और फ़ीचर फ़िल्म का लुत्फ़ उठा सकते हैं।

इस ऑनलाइन स्ट्रीमिंग सेवा की सबसे ख़ास बात यह है कि इसके कार्यक्रम देखते समय आपको आम टीवी की तरह विज्ञापन नहीं देखने पड़ते। साथ ही आप इसके कार्यक्रम देखते समय उन्हें जब जहाँ चाहे रोक सकते हैं और बाद में वहीं से शुरू करके आगे देख सकते हैं।

इसके साथ ही कंपनी वर्तमान में फ़िल्म-निर्माण के क्षेत्र में भी सक्रिय है और DVD की होम-डिलीवरी भी देती है।

कैसे हुई नेटफ़्लिक्स की शुरुआत?

Netflix  की स्थापना 1997 में रीड हेस्टिंग्स (Reed Hastings ) और मार्क रैंडॉल्फ़ (Marc Randolph) ने मिलकर कैलिफ़ोर्निया में की थी। इसके दोनों ही सह-संस्थापक इससे पहले तकनीकी क्षेत्र में कार्यरत थे और कई सफ़ल वेबसाइटों का निर्माण भी कर चुके थे।

रीड हेस्टिंग्स ने 1991 में ‘Pure Software’ नामक एक कंपनी की स्थापना की थी जो सॉफ्टवेयर डेवलपर्स के लिए डीबगिंग (Debugging) टूल्स बनाने का काम करती थी।

Embed from Getty Images

1997 में ‘प्योर सॉफ्टवेयर’ को ‘रैशनल सॉफ्टवेयर’ ने ख़रीद लिया जिससे रीड को लगभग 70 करोड़ डॉलर की प्राप्ति हुई।

उसी साल उन्होंने तक़रीबन 25 लाख डॉलर का निवेश करके मार्क के साथ 29 अगस्त 1997 को ‘नेटफ़्लिक्स’ की स्थापना की। यह एक ऐसी वेबसाइट थी जिसके ज़रिये लोग घर बैठे ही ऑनलाइन बुकिंग करके डीवीडी किराये पर ले सकते थे।

नेटफ्लिक्स के बाज़ार में आने से पहले ग्राहकों को डीवीडी किराए पर लेने के लिए दुकान में लाइन लगानी पड़ती थी और किराए पर लाये हुए डीवीडी को समय सीमा के बाद लौटाने पर दंड भरना पड़ता है। नेटफ्लिक्स ने ग्राहकों की इन दोनों ही समस्याओं का समाधान कर दिया जिसमें एक निश्चित मासिक शुल्क देकर ग्राहक पोस्ट में पूरे महीने डीवीडी मंगाकर देख सकते थे और देर से लौटाने का कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं था।

इस सुविधा की वजह से नेटफ्लिक्स ने ग्राहकों के दिल में जगह बनाना शुरू कर दिया और कंपनी एक सफल शुरुआत की तरफ बढ़ने लगी।

आलोचकों को ग़लत साबित करते हुए पाई शानदार सफ़लता

जब नेटफ़्लिक्स की शुरुआत हुई तो ज़्यादातर लोगों का यही मानना था कि यह बिज़नेस सफ़ल नहीं हो पायेगा। 2000 में रीड ने उस समय के वीडियो-रेंटल के क्षेत्र के दिग्गज ‘ब्लॉकबस्टर’ (Blockbuster) को ऑनलाइन पोर्टल की भूमिका निभाने के लिए नेटफ़्लिक्स में 49% की भागीदारी देने की पेशकश की जिसे ब्लॉकबस्टर के सीईओ ने सिरे से नकार दिया।

इसके बाद रीड नेटफ़्लिक्स के प्रचार-प्रसार में जुट गए। उस समय तक रीड अपने परिवार के साथ रोम के समीप एक किराये के मकान में रहा करते थे और हर महीने में 2 हफ़्ते के लिए सिलिकॉन वैली आया करते थे।

उनका डीवीडी रेंटल का यह बिज़नेस इतना बढ़िया चला कि 2005 तक इसके उपयोगकर्ताओं की संख्या 45 लाख का आंकड़ा पार कर गई और नेटफ़्लिक्स अपने प्रतिद्वंदी ब्लॉकबस्टर को पछाड़ कर उससे आगे निकल गया।

डीवीडी रेंटल सर्विस से ऑनलाइन स्ट्रीमिंग के क्षेत्र में रखा क़दम

नेटफ़्लिक्स ने एक क़दम आगे बढ़कर डीवीडी रेंटल के साथ ही ऑन-डिमांड स्ट्रीमिंग सेवा की भी शुरुआत की। कंपनी को उसमें भी सफ़लता मिली और 2010 तक इसके उपयोगकर्ताओं की संख्या 16 लाख तक जा पहुँची।

2011 में रीड ने डीवीडी रेंटल और ऑन-डिमांड स्ट्रीमिंग के कामों को अलग-अलग करने की घोषणा की जो एक गलत कदम साबित हुआ और कम्पनी को बहुत नुक़सान झेलना पड़ा। लेकिन जल्द ही उन्होंने अपनी ग़लती सुधारते हुए दोनों कामों को फ़िर से एक साथ मिला दिया।

2013 में नेटफ़्लिक्स ने अपनी पहली ऑरिजिनल टेलीविज़न सीरीज़ ‘हॉउस ऑफ़ कार्ड्स’ का प्रसारण किया जो बहुत ही सफल प्रयोग रहा। इसकी सफ़लता और लोकप्रियता का अंदाज़ा आप इस बात से लगा सकते हैं कि उस साल उसे नौ प्राइमटाइम एमी अवार्ड्स के लिए नामित किया गया जिनमें से तीन उसे मिले भी।

2013 के अंत तक नेटफ्लिक्स बाज़ार में एक दिग्गज कंपनी बन चुकी थी और इसके शेयर के दाम तीन गुना बढ़ चुके थे जबकि ब्लॉकबस्टर 2013 में ही सालों के लगातार नुकसान की वजह से बंद हो गयी।

ऑनडिमांड स्ट्रीमिंग की दिग्गज कंपनी के रूप में बनी पहचान

आज नेटफ़्लिक्स की स्ट्रीमिंग सेवा और इसके उपयोगकर्ता दुनिया भर के 190 देशों में उपलब्ध हैं और यह दुनिया का सबसे बड़ा और लोकप्रिय ऑनलाइन टेलीविज़न नेटवर्क बन चुका है।

स्ट्रेंजर थिंग्स, ऑरेंज इज़ द न्यू ब्लैक, नार्कोस, मार्वल्स जेसिका जोंस, थर्टीन रीज़न्स व्हाय, द क्राउन जैसी नेटफ़्लिक्स की अनगिनत ओरिजिनल सीरीज़ दर्शकों के बीच अत्यधिक लोकप्रिय हैं।

रीड हेस्टिंग्स नेटफ़्लिक्स के चेयरमैन और प्रमुख कार्यकारी अधिकारी (netflix ceo) हैं। 2007 से 2012 के दौरान वे माइक्रोसॉफ़्ट के बोर्ड मेंबर भी रह चुके हैं। वर्तमान में वे सोशल मीडिया दिग्गज फ़ेसबुक और अन्य कई नॉन-प्रॉफिट संगठनों के भी बोर्ड मेंबर हैं।

Embed from Getty Images

रीड हेस्टिंग्स को शिक्षा से भी है लगाव

नेटफ़्लिक्स के प्रमुख रीड हेस्टिंग्स एक सक्रिय शैक्षिक परोपकारी हैं। 1983 में गणित में स्नातक की डिग्री प्राप्त करने के बाद उन्होंने 2 साल तक स्वाज़ीलैंड में ‘पीस कॉर्पोरेशन’ (Peace Corps.) में उच्च माध्यमिक गणित के शिक्षक के रूप में सेवा प्रदान की। उसके बाद उन्होंने 1988 में स्टैनफ़र्ड विश्वविद्यालय से आर्टिफ़ीशियल इंटेलिजेंस में मास्टर डिग्री प्राप्त की।

वे 2001 से 2004 तक कैलिफ़ोर्निया स्टेट बोर्ड ऑफ एजुकेशन में भी काम कर चुके हैं। वर्तमान में भी वे ड्रीमबॉक्स लर्निंग, केआईपीपी और पहाड़ा आदि कई शैक्षिक संगठनों के बोर्ड के सदस्य हैं।

बिज़नेस कहानी की राय

कंपनी के मूल्यांकन और ग्राहकों की संख्या में लगातार वृध्दि हो रही है। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि जनवरी 2018 में नेटफ्लिक्स के 11.8 करोड़ ग्राहक थे और कंपनी ने पहली बार 100 अरब डॉलर के मूल्यांकन का आँकड़ा छुआ, 3 महीने बाद अप्रैल 2018 में कंपनी के 12.5 करोड़ ग्राहक हो गए और मूल्यांकन 136 अरब डॉलर पहुँच चुका है।

इस बिज़नेस कहानी से एक बात फिर से साबित हो जाती है कि यदि आप ग्राहकों की किसी समस्या का समाधान करते हुए बिज़नेस की स्थापना करते हैं तो आपको सफलता जरुर मिलेगी।

इसके साथ ही दूसरी बड़ी सीख अपने आप को समय के साथ बदलते रहने की है और अपने आस-पास के बदलाव पर हमेशा नजर रखकर बिज़नेस को इसके अनुरूप ढालना चाहिए। तकनीकी बदलाओं को अपनाकर नेटफ्लिक्स एक स्टार्टअप से दिग्गज कंपनी बन गयी जबकि उन्ही बदलाओं को नजरअंदाज करने की वजह से ब्लॉकबस्टर एक दिग्गज कंपनी होते हुए भी मिट्टी में मिल गयी।

क्या आप नेटफ्लिक्स का उपयोग करते हैं? आपके पसंदीदा कार्यक्रमों के बारे में हम सबको जरुर बताइये, शायद हमको भी वो कार्यक्रम पसंद आयें।

हमारे मेलिंग सूची के लिए सब्सक्राइब करें।

सब्सक्राइब करने के लिए धन्यवाद!

कुछ गलत हो गया..


शेयर करें:-
  • 25
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    26
    Shares

कमेन्ट करें