प्रेरणादायक कहानियाँ

ग्राहकों का डीएनए टेस्ट करके ‘आदर्श भोजन’ परोसने वाला लन्दन का अनोखा रेस्टोरेंट – Vita Mojo

शेयर करें:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

स्वादिष्ट भोजन हम सबको पसंद है, खास कर के माँ के हाथ का खाना. ज्यादातर लोग भोजन के स्वाद और उसकी पौष्टिकता पर ध्यान देते हैं परन्तु यह नहीं सोचते कि उनकी व्यक्तिगत शारीरिक संरचना के अनुसार वह सही है या नहीं. यह जरूरी नहीं है कि हर एक पौष्टिक तत्व सबके लिए समान रूप से उपयुक्त हो और इसी कारण से हम लोग खाने से ‘allergy’ या ‘intolerance’ जैसी बातें सुनते हैं. हमारे दैनिक स्वास्थ्य और पौष्टिक तत्व के अनुकूलन का राज हमारे डीएनए की संरचना में छुपा होता है. डीएनए टेस्ट से यह पता किया जा सकता है कि कौन सा पौष्टिक तत्व व्यक्ति-विशेष के लिए ठीक है, किस तरह के खाने से उसको एलर्जी हो सकती है और उसके शरीर के लिए किस तरह का व्यायाम उपयुक्त है. क्या आप ऐसे रेस्टोरेंट की कल्पना कर सकते हैं, जहाँ आपके मुंह के saliva से डीएनए टेस्ट करके, आपके लिए उपयुक्त खाद्य पदार्थों की लिस्ट देकर भोजन का आर्डर लिया जाए ? तो हम आपको बता दें कि दुनिया का यह अनोखा रेस्टोरेंट लन्दन में खुल चुका है और उसका नाम है -‘वीटा मोजो’ (Vita Mojo Restaurant).

A post shared by Vita Mojo 🍴 (@vitamojo) on

साल 2016 में, इस कैशलेस रेस्टोरेंट की नींव लन्दन के सेंट पॉल्स क्षेत्र में रखी गयी. इस कंपनी ने एक सॉफ्टवेयर बनाया है जो इसके रेस्टोरेंट में लगे i-pad , मोबाइल ऐप और वेबसाइट पर उपलब्ध है. इस तकनीक से ग्राहक अपने पोषण और आहार की जरूरतों के अनुसार अपने भोजन को रचित और निजीकृत कर सकते हैं. जैसे-जैसे ग्राहक प्रत्येक घटक की मात्रा चुनते हैं, एक चार्ट के द्वारा उनको दिखता है कि कितना पोषण उनको मिलेगा और भोजन की कीमत क्या होगी. इसका मतलब यह है कि आप कितना अच्छा महसूस कर रहे हैं या शायद आपने कितना व्यायाम किया है, उसके अनुसार आप अपने कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन या वसा का सेवन कम या ज्यादा करने का विकल्प चुन सकते हैं. व्यक्तिगत पोषण सलाह प्राप्त करने के लिए ग्राहक अपने वजन, ऊंचाई, आहार आवश्यकताओं और फिटनेस लक्ष्यों को ऐप में डाल सकते हैं. यदि आप अपने व्यंजन को संकलित करने की परेशानी से नहीं गुजरना चाहते हैं, तो Vita Mojo ने सेट कीमतों वाला भोजन का एक मेन्यू प्रदान किया है जो कि कैलोरी और पोषण संबंधी घटकों को निर्दिष्ट करता है और आप भोजन का चुनाव उसमें से कर सकते हैं.

A post shared by Vita Mojo 🍴 (@vitamojo) on

एक ex finanace executive, Nick Popovici और एक organic farm के मालिक, स्टीफन कैटोयू ने लन्दन के प्रसिध्द हैम यार्ड होटल के शेफ, पॉल डेविस और दुनिया की मशहूर पोषण विशेषज्ञ, हेलेन पैटोनस के साथ मिलकर कंपनी शुरू की. इन लोगों ने सोचा कि हर एक व्यक्ति स्वस्थ रहना चाहता है और अच्छा खाना चाहता है, लेकिन हर कोई व्यक्तिगत पोषण विशेषज्ञ नहीं रख सकता और इसी सुविधा को आम इंसान तक पहुँचाने के लिए इस बिज़नेस की शुरुआत हुई. अब हर कोई व्यक्तिगत पोषण विशेषज्ञ और निजीकृत भोजन का स्वादिष्ट अनुभव प्राप्त कर सकता है.

साल 2017 में, वीटा मोजो के संस्थापकों को बहुत ही अनोखा विचार आया और उन्होंने ‘DNA fit’ नाम की कंपनी से संपर्क किया. डीएनए फिट, एक डीएनए विश्लेषण की कंपनी है जो ग्राहकों का डीएनए टेस्ट करके यह रिपोर्ट देती है कि आप के शरीर की संरचना कैसी है और आपको किस तरह के पोषण तथा व्यायाम की जरुरत है. वीटा मोजो और डीएनए फिट ने हाथ मिलाकर एक अभूतपूर्व पहल की है. Saliva के नमूने का डीएनए विश्लेषण करके ग्राहक को पता चलेगा कि कौन से खाद्य समूह से ज्यादा खाएं जिससे किसी भी विटामिन की कमी को खत्म करने में मदद मिलेगी. इस सेवा को ब्रिटेन के कुछ विख्यात व्यक्तित्वों ने ट्रायल किया और सभी ने कहा कि उनका आदर्श भोजन बहुत स्वादिष्ट था.

डीएनए फिट के साथ वीटा मोजो की साझेदारी पूरे विश्व में पहली ऐसी पहल है और उनका लक्ष्य है कि उनके ग्राहकों को जितना संभव हो सके उतनी जानकारी हो, ताकि वे अपने फिटनेस लक्ष्यों को हासिल करने के लिए खा सकें (या सिर्फ एक स्वस्थ सुखी जीवन जीने के लिए). डीएनए टेस्ट पहले से मौजूद है और ऐसी अन्य सेवाएं हैं जो आहार की सलाह देती हैं लेकिन कोई भी ऐसा नहीं है जो पांच मिनट से भी कम समय में डीएनए से मेल खाते भोजन की एक प्लेट तैयार कर दे.

वीटा मोजो की लन्दन में तीन शाखाएं खुल चुकी हैं और कंपनी ने मई-जून 2017 में, बिज़नेस बढ़ाने के लिए जनसमूह द्वारा इन्वेस्टमेंट करवाने वाली कंपनी, क्राउडक्यूब, पर आम जनता से 38 लाख पाउंड्स (लगभग 30 करोड़ रुपये) का इन्वेस्टमेंट एकत्रित किया. कंपनी का ध्यान ज्यादा शाखाएं खोलने, अपने सॉफ्टवेयर को दूसरे रेस्टोरेंट्स को बेचने और अंतरराष्ट्रीय विस्तार पर केन्द्रित है.

BusinessKahani की राय

हमारी राय में यह बहुत ही दिलचस्प सोच है और काफी सही समय पर बाज़ार में आया है क्योंकि स्वास्थ्यवर्धक खाद्य उद्योग में तेजी से वृद्धि हो रही है और साथ ही पूरी दुनिया में निजीकरण की मांग भी बढ़ रही है. इस तरह के बिज़नेस में उपभोक्ता और रेस्टोरेंट दोनों के लिए एक जीत है जो ग्राहकों की संतुष्टि बढ़ाता है और रेस्टोरेंट के लिए ज्यादा ग्राहक लाता है. यदि आप आज की पीढ़ी को देखें तो उनके लिए कल्याण और स्वास्थ्य बहुत ही महत्वपूर्ण है और वीटा मोजो इसको आसान बना रहा है. अभी तक सिर्फ स्वाद और मन के आधार पर भोजन का चुनाव होता आया है परन्तु अब यह विज्ञान के साथ जुड़कर बहुत ही प्रभावशाली बन सकता है.

आपको यह बिज़नेस कहानी कैसी लगी, कृपया कमेंट करिए. इसको ज्यादा से ज्यादा शेयर करिये और हमारे उद्देश्य को सफल बनाने में योगदान दीजिये.

हमारे मेलिंग सूची के लिए सब्सक्राइब करें।

सब्सक्राइब करने के लिए धन्यवाद!

कुछ गलत हो गया..


शेयर करें:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कमेन्ट करें